ब्लॉगसेतु

rishabh shukla
484
Ram Janm Bhumi Ayodhyaराम लला अब आयेंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे|ज़न मानस मन भायेंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे||मंदिर वहीं बनाएंगे... तुम हो करुणा सागर, मर्यादापुरुषोत्तम सब के प्रिय, तेरी अमिट छवि है हर हृदय मे, बाट जोहती सबकी आँखे, अब मेरे...
rambilas garg
125
                   बचपन में एक बहुत मशहूर कहानी सुनी थी, अन्धेर नगरी चौपट राजा। वैसे तो ये कहानी बहुत से लोगों ने सुनी है। फिर भी इसका सार संक्षेप इस तरह है, एक नगरी जिसका नाम...
rambilas garg
125
                       महाराजा जनक की सभा में जैसे ही शिव धनुष टूटा, क्रोधित परशुराम ने धड़धड़ाते हुए प्रवेश किया। सभी लोग परशुराम के क्रोध से वाकिफ थे इसलिए...