रवि बुले के लेखन को मैं गंभीरता से लेता रहा हूँ. हँसते हँसते रुला देने वाली कहानियों का लेखक. पॉपुलर और सीरियस को फेंटने वाला लेखक. लेकिन इधर उन्होंने 'दलाल की बीवी' नामक उपन्यास में 'मंदी के दिनों में लव सेक्स और धोखे की कहानी' क्या लिखी कि सवालों के घेरे में आ गए...