ब्लॉगसेतु

Pratibha Kushwaha
488
हाल ही में एक अध्ययन सामने आया है। इसमें बताया गया है कि लिंग भेद मिटाने या कम करने के उद्देश्य से उत्तराधिकार या विरासत संबंधी कानूनों बनाने के साथ सुधार किया गया। विरासत कानूनों में हर सुधार के बाद सोचा गया था कि इससे महिलाओं की सामाजिक-आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करने...
Pratibha Kushwaha
488
वैसे तो हमारी सामाजिक और धार्मिक व्यवस्थाएं यही हैं कि किसी भी स्त्री को एकल जीवन न जीना पड़े। फिर भी कुछ महिलाएं आजीवन अविवाहित रह जाती हैं, कुछ शादी ही नहीं करती हैं। कुछ महिलाएं शादी के बाद छोड़ दी जाती हैं तलाकशुदा हो जाती हैं। कुछ महिलाओं के पति शहरों में...
MediaLink Ravinder
465
9 दिसम्बर 2018 सांय 7:31 par पोस्ट किया  (WM)करीब 1000 अति विशिष्ट लोग शामिल होंगेसेवा मेंसंपादक महोदय/मुख्य संवाददाता/ डेस्क/ बियूरो चीफविषय अंतरराष्ट्रीय ह्यूमन राइट दिवस पर 1987 से आयोजित किया जाने वाला कार्यक्रम कवरेज करवाने हेतुमहोदयआपको बताते हुए हमें ख़ु...
 पोस्ट लेवल : Media Press Invite Invitation New Delhi Human Rights
S.M. MAsoom
410
The Rights of a Newborn-Honoring the Birth“And peace be on him the day he was born, and the day he dies, and the day he shall be raised alive!”۱“And peace be on me the day I was born, and the day I die, and the day I shall be raised alive.”۲۱۱۹.Imām al-Bāqir (a.s.)...
 पोस्ट लेवल : new born baby rights
Kajal Kumar
16
Bharat Tiwari
27
(Image courtesy: Sonu Mehta/HT Photo)तैयार हो दोस्तों ? — कपिल मिश्रातुम लड़ नही पाओगे उनसे अगर उन्हें पहचाना नहीं। उनकी भाषा और उनके चक्रव्यूह को समझे बगैर जब जब लड़ोगे, हारोगे। उनकी ताकत है निराशा, उनकी ताकत है नकारात्मकता, उनकी ताकत है अपने देश को, समाज को और...
लोकेश नशीने
515
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 15 अगस्त को भारत वर्ष में स्वतंत्रता दिवस बड़े ही हर्षोल्लास और धूमधाम से मनाया जाता है। हर्ष इस बात का कि इस दिन हमें आजादी मिली और धूम इस बात की कि अब हम पूरी स्वतत्रंता से अपनी मनमानी कर सकते हैं। गाहे-बगाहे...
Yash Rawat
617
मुझे पूर्ण विश्‍वास है कि कभी न कभी आपके साथ भी ऐसा हुआ होगा जब आपसे बस अड्डे या रेलवे स्‍टेशन या किसी दुकान में सामान के एमआरपी से ज्‍यादा कीमत मांगी या वसूली गयी होगी, जब आपने इसकी वजह पूछी होगी तो दुकानदार या तो भड़क गया होगा या उसने बहाने बनाये होंगे और फिर आपने...
rambilas garg
124
               माननीय सर्वोच्च न्यायालय छुट्टियों के बावजूद तीन तलाक पर सुनवाई कर रहा है। इस सुनवाई के दौरान कई चीजों का जिक्र बार बार होता है। इनमे से एक है मूलभूत अधिकार। सबसे ख़ुशी की बात ये है...
rambilas garg
124
                        जब कोई व्यक्ति या सरकार किसी अधिकार का उपयोग, परम्परा, न्याय, संविधान, और समानता के सिद्धांतों को छोड़कर अपने व्यक्तिगत पसन्द-...