ब्लॉगसेतु

अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन।               'शिक्षा सबके लिये' का मिशन अब सरकार की मंशा से अलग हो चुका है। शिक्षा को कारोबार में बदलने और इसे सिर्फ़ सक्षम वर्ग के लिये सुनिश्चित करने के लिये अब सरकार की नीतियों में चालाकीभरी दूरदृष्टि अब...
kumarendra singh sengar
29
बीते दिनों से छुटकारा पाना आसान नहीं होता है. उन दिनों की बातें, उनकी यादें किसी न किसी रूप में सामने आ ही जाती हैं. ये यादें कभी हँसाती हैं तो कभी रुलाती हैं. दिल-दिमाग खूब कोशिश करें कि पुरानी बातों को याद न किया जाये मगर कोई न कोई घटना ऐसी हो ही जाती है कि इन या...
विश्वमोहन विश्वमोहन
322
किसी सत्ता का अहसास होना ही उसके आस्तित्व  का 'होना' है भले ही, भौतिक अवस्था में वह दृष्टिगोचर हो या न हो। कई सत्ताएँ तो भौतिक रूप में उपस्थित होकर भी अपनी उपस्थिति के अहसास का स्पर्श नहीं करा पाती और अनुभूति के धरातल पर वह आस्तित्व विहीन अर्थात 'न होना' होकर...
sanjiv verma salil
6
एक रचना दिल्लीवालो *दिल्लीवालो! भोर हुई पर जाग न जानाघुली हवा में प्रचुर धूल हैजंगल काटे, पर्वत खोदेसूखे ताल, सरोवर, पोखर नहीं बावली-कुएँ शेष हैं हर मुश्किल का यही मूल है बिल्लीवालो!दूध विषैला पी मत जाना कल्चर है होटल में खाना सद्विचार कह दक़ियानूसी चीर-फाड़कर वस्त्र...
 पोस्ट लेवल : नवगीत दिल्लीवालो
रणधीर सुमन
15
संसदीय राजनीति में भ्रष्टाचार के खिलाफ गुरुदास गुप्ता ने निभाई थी अहम भूमिका-सुमनपूर्व सांसद कामरेड़ गुरुदास दास गुप्ता का निधन मजदूर आन्दोलन की बड़ी क्षतिभारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने कामरेड़ की स्मृति में आयोजित की शोकसभाबाराबंकी। गुरुदास गुप्ता साम्यवादी आंदोलन के ही...
Yashoda Agrawal
8
सादर अभिवादनआज की संक्षिप्त प्रस्तुतिरविवार की वजह सेपारिवारिक हलचल हैदेखिए आज की रचनाएँ...विलीन हो जाओ प्रकाश पुंज मे..,! अनीता लागुरीमौत भले ही एक रहस्य हो इस नश्वर शरीर के  सुक्ष्म तत्वो में    विलीन हो जाने का प्रकाश पुंज हो जाने क...
 पोस्ट लेवल : 178
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
214
..............................
Asha News
89
प्रतिभायें स्वयं प्रस्फुटित होती है, और अपनी काबिलियत के बल पर अपने परिवार, शहर, स्कूल का नाम रोशन करती है । चाहे वह अपने शहर में प्रतिभा के कारण छिपी रही हो किन्तु जब उसे मौका मिलता है तो वह शहर का नाम रोशन करने मे पीछे नही रहती है। ठीक यही बात स्थानीय उत्कृष्ठ...
 पोस्ट लेवल : Women Jhabua
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
 पोस्ट लेवल : लघुकथा लघु कथा
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
 पोस्ट लेवल : नाटक