ब्लॉगसेतु

संजीव तिवारी
607
हाजी हसन अली का जन्म 2 अक्टूबर 1913 में रायपुर में हुआ था । स्वनामधन्य पिता श्री डी.बी.खमीसा के सान्निध्य में, साहित्यिक वातावरण में आपका लालन-पालन हुआ । आपकी शिक्षा-दीक्षा उर्दू माध्यम से हुई । अदीबे कामिल समकक्ष बी.ए. तक आपने तालीम प्राप्त की । उर्दू अदब के बुजुर...
 पोस्ट लेवल : हाजी हसन अली
708
खटीमा में 9 जनवरी को सम्पन्न हुएब्लॉगर्स सम्मेलन की गूँजसाप्ताहिक समाचार पत्र में भी सुनाई दी!दैनिक जागरणअमर उजाला दैनिक
 पोस्ट लेवल : कतरन ब्लॉगर मीट
Raam Mishra
203
Watch it live HereLive Cricket Stream: "- Sent using Google Toolbar"
सर्जना शर्मा
562
लोहड़ी की आप सबको शुभकामनाएं । खुशियों का ये त्यौहार ऐसा त्यौहार है जिसे सब मिल कर मनाते हैं, अपनी खुशियां पड़ोसियों दोस्तों और नाते रिश्तेदारों के साथ बांटते हैं । किसी के घर में बच्चा हुआ हो या किसी के बेटे की नयी नयी शादी हुई हो तो उस घर में तो खुशियां होगीं ही...
 पोस्ट लेवल : लोहड़ी बधाई खुशियां
Krishna Kumar Yadav
416
आकाश हमारा है, हमसे उजियारे हैंतारों जैसे चमचम, आँखों के तारे हैंहम बच्चे प्यारे हैं।सौतेले रिस्तों को ध्रुव ने जितना जानाप्रहलाद पिता पीड़ित ने भोगा जुरमानाहम वंचित सारे हैं,हम बच्चे प्यारे हैं।लवकुश सीता माँ के, गायक बंजारे हैंतुलसी के चौरे के, हम दीपक न्यारे हैं...
zeashan zaidi
148
सम्पादक, बृजेश और मि0 लाल एक साथ पुलिस कस्टडी में पहुंचे और वहाँ से एक सब इंस्पेक्टर को लेकर मुरदाघर रवाना हो गये। क्योंकि लाश वहीं पर थी।जब वे लोग मुरदाघर के उस स्ट्रेचर के पास पहुंचे जिसपर लाश थी तो भौंचक्के रह गये। क्योंकि लाश का सर और हाथ पै...
Dr. Zakir Ali Rajnish
583
विश्‍व की लगभग सभी सभ्‍यताओं में सांपों को किसी न किसी रूप में पूजने का रिवाज रहा है। यूनानी देवता एस्‍क्‍लीपियस, जोकि औषधि के देवता माने जाते हैं, केपास मौजूद पंखों वाले दण्‍ड पर दो सांप दर्शाये गये हैं। मिस्र की उर्वरता की देवी एक नागमुखी नारी के रूप में चित्रित...
 पोस्ट लेवल : Snake myths Snake facts
अविनाश वाचस्पति
128
आपके दिल का दुश्‍मन है आपका कंप्‍यूटरहिन्‍दुस्‍तान ने कहा हैहिन्‍दुस्‍तान वही जो दैनिक हैखबर यह और भी जगह होगीपर मैंने तो वहीं से ली हैब्‍लॉगरों सावधानदिल को बचा लोकंप्‍यूटर औरटी वी से ।
संजय भास्कर
223
किस बात का गुनाहगार हूँ मैं,खुशिया भरता हूँ  सबकी जिंदगी में ,टूटे दिलो को दुआ देता हूँ ,दुश्मन का भी भला करता हूँ |क्या इसी बात का गुनाहगार हूँ ,मेरी जिंदगी में कांटे डाले सबनेमैंने फूलों की बहार दे डाली बचाता हूँ दोस्तों को हर इलज़ाम सेकहीं दोस्त बदनाम न हो...
विजय कुमार सप्पत्ति
465
दोस्तों, स्वामी विवेकानंद मेरे आदर्श है , उनका जन्मदिन १२ जनवरी को है .ये कविता उन्ही को समर्पित है . मैं ये मानता हूँ की अगर उनके बताये हुए संदेशों में से अगर हम एक भी संदेश आत्मसात करें , तो हमारे जीवन में ढेर सारे changes और positive aura का प्रवेश हो जा...