ब्लॉगसेतु

अनीता कुमार
0
http://www.esnips.com/doc/f46f347f-e6a5-43b5-ae97-c6644d0b757a/woh-jo-milte-the-kabhi
 पोस्ट लेवल : वो जो मिलते थे कभी
Arvind Mishra
0
एक बार फिर से मैंने मोहभंग को यूनिकोड मे बदलने का प्रयास किया है ,क्योंकि कुछ गलतियाँ रह गयी थीं .अब केवल चंद्रबिंदु की समस्या है बाक़ी ठीक हो गया लगता है ,अंतर्जाल पर कुछ लंबा पढना एक बोझिल काम है भले ही वह 'शार्ट स्टोरी ' ही क्यों ना हो.बहरहाल मोहभंग यूनिकोड मे...
 पोस्ट लेवल : Hindi sf
Arvind Mishra
0
मोहभंग विज्ञान कथा को आप तक पहुंचाने मे मुझे जीतू भाई,शिरीष जी और प्रिय जाकिर से मदद मिली जिन्होंने इसे कृतिदेव फाँट से यूनीकोड मे बदलने का रास्ता सुझाया .मैं उनका बहुत आभारी हूँ .हिंदी चिट्ठीकारिता की प्रेरणा मुझे उन्मुक्त जी से मिली जो खुद भी विज्ञान कथाओं के रसि...
 पोस्ट लेवल : Hindi sf
Arvind Mishra
0
eksgHkax ! Hkkjr&pkUnz ,vj cl lsok dh ml mM+ku esa ewu VkbEl dk osc i=dkj fuiq.k Hkh FkkA ^^vki pUnzyksd igq¡p pqds gSa vkSj tYnh gh izksQslj lqjsUnz dqekj ds ,ikVZesUV rd igq¡p tk;saxs** ,;j cl dk izlkj.k ekuhVj tks Bhd f...
 पोस्ट लेवल : Hindi sf
अनुराग श्रीवास्तव
0
.रक्षा बंधन के अवसर पर, आइये आज सीखते हैं "बम्बइया राजमा" बनाना. वैसे तो रेसिपी चुराई हुयी है. इस पकाऊ पकवान के मूल खानसामे हैं साजिद खान, जिन्होंने ये रेसिपी रेडियो सिटी पर सुनाई थी..आवश्यक सामग्री:.1. महारानी – 12. राजकुमार – 13. राजकुमार का गरीब लेकिन सच्चा मित्...
Arvind Mishra
0
विज्ञान कथा मे फिक्शन और फंतासी दोनो का समावेश है .फिक्शन लातिनी शब्द है जिसका मतलब आविष्कार करना होता है और फंतासी यूनानी शब्द है जिसका अर्थ कल्पना करना है.अंग्रेजी साहित्य मे तो साइंस फिक्शन और साइंस फंतासी की अलग अलग पहचान है , मगर हिंदी मे अभी तक इन दोनो उ...
 पोस्ट लेवल : Musings
घुघूती  बासूती
0
The Meandering RoadThere is this beautiful roadA broken down, beaten down roadA road so narrow that two oxcartsOr two cars cannot pass it together.When two cars approach each otherFrom opposite sides, it’s like a friendlyBattle of wits, of who would back offAt leas...
 पोस्ट लेवल : Poem
Arvind Mishra
0
हिंदी में विज्ञान कथा का अतीत और वर्तमान मील के कई पत्थरों से आलोकित है.पहली विज्ञानं कथा पंडित अम्बिका दत्त व्यास ने १८८४ से १८८८ के बीच मध्य प्रदेश की तत्कालीन मशहूर पत्रिका पीयूष प्रवाह मे धारावाहिक रुप से लिखी थी जिसका नाम था - आश्चर्य वृत्तांत .फिर सरस्वती के...
 पोस्ट लेवल : Musings
Arvind Mishra
0
विज्ञान कथा को लेकर प्रायः लोगो मे तरह तरह के कयास लगाए जाते हैं.भारत मे इसे लेकर काफी भ्रम की स्थिति है.कोई यह समझता है कि जैसे आग की कहानी ,कोयले की कहानी ,स्टील कि कहानी वैसे ही विज्ञान की कहानी -यानी विज्ञानं का इतिहास !मगर ऐसा तो है नही .विज्ञान कथा दीगर स...
 पोस्ट लेवल : Musings